Rapidex English Learner


Rapidex English Learner
New

Author: Rohit Gupta
Format: Paperback
Language: Hindi
ISBN: 9788122314502
Code: 0001R
Pages: 352
Price: US$ 8.00

Published: 2013
Publisher: Pustak Mahal
Usually ships within 15 days


Add to Cart

Recommend to Friend

Preview as PDF





यदि आपको अंग्रेज़ी का साधारण ज्ञान है लेकिन अंग्रेज़ी लिखना व बोलना नहीं आता है, तो भी अब आप अपने अंदर हीनता का भाव न लाएं और न ही अपने को पिछड़ा हुआ महसूस करें, क्योंकि अब आप 'रैपिडैक्स इंगलिश लर्नर' द्वारा अपनी मंजि़ल पा सकते हैं अर्थात् आसानी से अंग्रेज़ी बोलना व लिखना सीख सकते हैं। सही अंग्रेज़ी बोलने के लिए ग्रामर के ज़रूरी नियमों और अनगिनत शब्दों की जानकारी अर्जित करने के अलावा, अंग्रेज़ी में वाक्य बनाने की कला भी आपको सीखनी होगी।
किसी भी भाषा को व्यक्त करने के दो ही साधन हैं- लिखना और बोलना। इस पुस्तक का उद्देश्य अंग्रेज़ी भाषा को सही उच्चारण सहित, बोलना और लिखना दोनों ही सिखाना है। यहां यह जानना बहुत ही आवश्यक है कि जितना अधिक से अधिक लिखने का अभ्यास किया जायेगा उतनी ही अधिक लिखने में दक्षता प्राप्त होगी। इसी प्रकार अंग्रेज़ी भाषा को आप जितना अधिक बोलने का अभ्यास करेंगे, उतना ही इसे धारा-प्रवाह और बिना झिझक के बोलना सीख सकेंगे।
पुस्तक के प्रथम भाग में 70 से अधिक परिस्थितियों (Situations and Occasions) से संबंधित वाक्यों को बनाना सिखाया गया है। प्रारम्भ में हर परिस्थिति के अनुसार रोज़मर्रा में बोले जाने वाले कुछ वाक्य बताए गए हैं जिनमें हम आमतौर पर आधे हिन्दी और आधे अंग्रेज़ी के शब्दों का इस्तेमाल करते हैं। फिर उसका अंग्रेज़ी में पूरा वाक्य (अंग्रेज़ी उच्चारण सहित) दिया गया है।
वाक्य बनाने की कला 'रैपिडैक्स पद्यति' पर आधारित एक ट्यूटोरियल DVD द्वारा सिखाई गई है। पुस्तक में अंग्रेज़ी लिखने और बोलने में होने वाली झिझक को मिटाने के लिए Tutorial Lessons दिए गए हैं। इसमें इस बात पर जोर दिया गया है कि वाक्यों को बार-बार बोलकर दोहराना आवश्यक है, क्योंकि केवल पढ़ना और बुदबुदाना कारगर साबित नहीं होता।
पुस्तक के दूसरे भाग में अंग्रेज़ी में अपने शब्द-भण्डार (Word Power) को कैसे बढ़ायें, इस पर जोर दिया गया है। बोलचाल में अधिकतर प्रयोग में आने वाले मूल शब्दों के आगे व पीछे Prefix और Suffix लगाने से वाक्यों के अर्थ कैसे बदल सकते हैं, अंग्रेज़ी और हिन्दी में उनके उच्चारण और अर्थ भी दिए गए हैं। इसके अतिरिक्त हिन्दी में उच्चारण और अर्थ सहित अंग्रेज़ी के उन शब्दों को भी दिया गया है जिनमें एक मूक अक्षर (Silent Word) होता है, अर्थात जिसे बोला नहीं जाता।
तीसरे भाग में ग्रामर के उन आवश्यक नियमों को लिया गया है जो रोज़मर्रा के इस्तेमाल में अंग्रेज़ी लिखने और बोलने के लिए आवश्यक हैं। अंग्रेज़ी ग्रामर की बहुत-सी बारीकियों को छोड़ दिया गया है क्योंकि उससे अपेक्षित श्रेणी के पाठकगण भ्रमित हो सकते हैं। Common Errors के चैप्टर में साधारण पाठकों के अलावा अंग्रेज़ी के अच्छे-अच्छे जानकारों द्वारा भी वाक्य-संरचना में जो गलतियां आमतौर पर होती हैं, उन्हें उदाहरण सहित समझाया गया है।
चौथे भाग में 48 पृष्ठों की सचित्र वर्गीकृत (Classified Vocabulary) शब्दावली दी गई है, जिनका प्रयोग आम बोलचाल में रोजाना होता ही रहता है।
अंग्रेज़ी बोलने व लिखने में जो रूकावटें आती हैं वे अंग्रेज़ी शब्दों का अर्थ न जानने के कारण आती हैं। इस रूकावट को दूर करने के लिए पुस्तक के अंत में रोज़मर्रा की जिंदगी में अधिकतर इस्तेमाल होने वाले चुनिंदा 5000 अंग्रेज़ी शब्दों की अंग्रेज़ी-हिन्दी डिक्शनरी भी दी गयी है।
इस प्रकार की पुस्तकों को और बेहतर बनाने की संभावना हमेशा बनी रहती है। वाक्यांश बनाने में शब्दों का चयन और ग्रामर का उपयोग सही है या नहीं, इसको लेकर मतभेद भी होते हैं, लेकिन हमने सभी कुछ सही करने की पूरी कोशिश की है। फिर भी, पाठकों से यह अपेक्षा है कि वे पुस्तक में जा रही अनचाही-अनजानी त्रुटियों से हमें अवश्य अवगत करायें ताकि आगामी संस्करण में उन्हें दूर कर दिया जाए। पुस्तक को और बेहतर बनाने में आपके सभी सुझाओं का हम स्वागत करेंगे।

^ Top

Post   Reviews

Please Sign In to post reviews and comments about this product.

About Pustak Mahal

Hide ⇓

Pustak Mahal publishes an extensive range of books that are both affordable and high-quality.

^ Top